Astrology for Betting - सट्टेबाजी और जुआ के लिए ज्योतिषीय भविष्यवाणी

4.2
Astrology for Betting - सट्टेबाजी और जुआ के लिए ज्योतिषीय भविष्यवाणी

आजकल, सट्टेबाजी और जुआ/ Betting and Gambling जल्दी पैसा बनाने के अच्छे विकल्प हैं।

आजकल, सट्टेबाजी और जुआ/ Betting and Gambling जल्दी पैसा बनाने के अच्छे विकल्प हैं। हालांकि, पैसा एक ऐसी चीज है जिसके बिना हम कुछ नहीं कर सकते, लेकिन हमें सट्टेबाजी और जुए में होने वाले संभावित नुकसानों को जांचने की भी जरूरत होती है। किसी भी सट्टा व्यापार पर विचार करने से पहले कुछ सावधानियों को लागू करने की आवश्यकता होती है। सट्टेबाजी और जुए के पूरी तरह से भाग्य पर आधारित होने के कारण, इनसे संबंधित स्थितियों का अंदाजा लगाने के लिए किसी ज्योतिषी की सलाह लेना बुद्धिमानी भरा कदम साबित हो सकता है। सट्टेबाजी के लिए ज्योतिष/ Astrology for Betting, वैदिक ज्योतिष की एक शाखा है जो उपरोक्त विषय से संबंधित है और इससे संबंधित प्रश्नों के उत्तर खोजने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं।

क्या जुआ या सट्टेबाजी जोखिम भरा है?/ Is gambling/Betting risky?

हमें यह देखने की जरूरत होती है कि क्या आप अपनी जन्म कुंडली के अनुसार इस पेशे को चुन सकते हैं? सर्वप्रथम, इसके लिए कई सवालों के जवाब देने की जरूरत होती है। सट्टेबाजी से संबंधित आमतौर पर कुछ सवाल पूछे जाते हैं जैसे "क्या मैं इसमें असफल हो जाऊंगा?" "इस क्षेत्र में निवेश करने के लिए अच्छा योग कब है?" " क्या यह जोखिम भरा रहेगा?" इत्यादि। अतः निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले, हमें इस विषय के संबंध में अपनी कुंडली की जांच करानी चाहिए।

सट्टेबाजी और जुआ एक जोखिम भरा व्यापार है इसलिए व्यक्ति को हर कदम सोच समझकर ही रखना चाहिए। सबसे अच्छा होगा यदि आप अपना निर्णय अपनी कुंडली के आधार पर ही लें। कई बार देखा गया है कि लोग अपनी आधी कमाई जुए में हार जाते हैं। कई बार आपका सामान्य ज्ञान भी सामान्य नहीं लगता। इस संदर्भ में ज्योतिषीय सहायता के बिना सट्टेबाजी की दुनिया में अस्तित्व बनाए रखना आसान नहीं है। जुए और सट्टेबाजी के लिए ज्योतिष एक नया क्षेत्र है, जिसे वैदिक ज्योतिष के विशेषज्ञ ही निरीक्षण कर आपकी सहायता कर सकता है।

क्या आपकी जन्म कुंडली सट्टेबाजी में सहायक है?/ Does your birth chart support betting?

जुआ एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें 90 प्रतिशत भाग्य और 10 प्रतिशत आपकी सोच का प्रयोग होता है। इसमें, हर समय लाभ प्राप्त करना आसान नहीं होता। यही कारण है कि हर कोई इसमें आसानी से प्रयास नहीं कर सकता और न ही सरलता से सफलता पाता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार दूसरा, पांचवां, आठवां, नौवां और ग्यारहवां भाव आर्थिक रूप से सफलता के मार्ग में सहायक होता है, जबकि आठवां, नौवां और ग्यारहवां भाव सट्टा व्यापार का आधार है। कुंडली के अनुसार/ kundli predictions, दूसरा भाव व्यक्ति के स्वामित्व वाली संपत्तियों से संबंधित होता है, आठवां भाव साझेदारी और विवाह के माध्यम से धन लाभ को प्रदर्शित करता है तथा ग्यारहवां भाव करियर या बिजनेस द्वारा लाभ का संकेत देता है। लग्न का स्वामी का दूसरे और आठवें भाव के स्वामियों के साथ मेल, सट्टाबाजार के माध्यम से आसानी से धन दिलाता है। इसके साथ ही, हमें इन दोनों भावों में स्थित ग्रहों की विस्तारपूर्वक जांच करानी चाहिए।

क्या सट्टेबाजी आपके लिए मददगार है? यह पता लगाने के लिए, आपकी कुंडली का पूर्ण अध्ययन किया जाता है। हमारी कुंडली में सट्टेबाजी और जुए से संबंधित क्षेत्रों को चंद्रमा, शुक्र, राहु और बुध ग्रह व्यवस्थित करते हैं। यही ग्रह शेयर बाजार के द्वारा आमदनी का संकेत देते हैं। लाभकारी बृहस्पति और शुक्र की युति लॉटरी एवं ड्रा में बड़ी राशि जीतने में मददगार साबित होती है। इस प्रकार, जन्मकुंडली सट्टेबाजी में सहयोग करती है। सट्टेबाजी में, कुछ लोग लगातार भाग्यशाली रहते हैं। आइए अब हम देखते हैं कि बिजनेस के रूप में जुए को ज्योतिषीय भविष्यवाणियां कैसे मदद करती हैं।

व्यवसायिक रूप में जुए को अपनाने के लिए ज्योतिषीय भविष्यवाणियां क्या हैं?/ What are the astrological predictions to have gambling as a profession?

सट्टेबाजी के उद्देश्यों पर कृपा बरसाने वाली राशियां वृषभ, कर्क, मिथुन, कन्या, तुला और मीन हैं। मान लीजिए कि आपकी कुंडली में इनमें से कोई भी राशि पांचवें भाव में है, तो यह आपके आसानी से धन जीतने की संभावनाओं को बढ़ा सकता है।

जुए के लिए कौन सा ग्रह जिम्मेदार है/ Which planet is responsible for gambling

वैदिक ज्योतिष के अनुसार कुछ ग्रह जुए और सट्टेबाजी के लिए जिम्मेदार होते हैं। बृहस्पति के अपने आठवें भाव में गोचर करने के दौरान, कई लोगों द्वारा लॉटरी के माध्यम से जीत का अनुभव किया जा सकता है। पांचवें भाव में लाभकारी स्थिति वाला चंद्रमा बारहवें भाव पर बिना किसी बुरे प्रभाव के, सट्टेबाजी के क्षेत्र में निरंतर अच्छे अनुपात में लाभ को निश्चित करता है। कभी-कभी शुक्र और बुध लॉटरी जिताने में सहयोगी होते हैं। पांचवें भाव में राहु के शक्तिशाली होने पर, सुनियोजित जोखिम उठाने से धन की प्राप्ति होती है। अन्यथा राहु, सट्टेबाजी और जुए से संबंधित क्षेत्रों में व्यक्तियों के भाग्य को बढ़ाने में असमर्थ होता है। बिजनेस को दर्शाने वाले D10 जैसे सहयोगी चार्ट, सट्टेबाजी के बिजनेस में भाग्य को दर्शा सकता है।

Read more about: Astrological Prediction for Betting and Gambling

बृहस्पति, शनि और केतु सट्टेबाजी और जुए से बैर रखने वाले ग्रह हैं, जो धैर्य के साथ चुनौतीपूर्ण कार्यों के माध्यम से धन प्राप्त करने में सहयोग करते हैं, जिनके प्रति विशेष रूप से शनि का अत्यधिक झुकाव रहता है जबकि, बृहस्पति गलत और सही की स्पष्ट भावना के साथ जल्दी पैसा बनाने का विरोध करता है। केतु अत्यधिक आध्यात्मिक होने के कारण, धन संबंधी मामलों के प्रति जागरूक नहीं होता। हम इन नियमों का प्रयोग करके यह जान सकते हैं कि कौन सा ग्रह लॉटरी के लिए उत्तरदायी है।

निष्कर्ष/ Conclusion:

सट्टेबाजी और जुआ जल्दी पैसा कमाने के ऐसे अचूक तरीके हैं। अतः, हमें सावधानीपूर्वक सही समय पर सही कदम उठाना चाहिए तथा किसी गुणी या अनुभवी वैदिक ज्योतिषी के ज्योतिषीय मार्गदर्शन द्वारा अपने जीवन के महत्वपूर्ण निर्णल लेने चाहिए।

Source: https://sites.google.com/view/vinaybajrangis/blog/betting-and-gambling-as-per-janam-kundli